अध्यापिका को सबक सिखाया

अमन के लिए कॉलेज में कठिन समय चल रहा है। उसकी अंग्रेजी प्रोफेसर सुश्री मोनिका उसे शांति से नहीं रहने दे रही।

कक्षा में बैठे अमन के दिवास्वपन को उसकी अध्यापिका बीच में ही तोड़ देती है। वह उसे डांटती है और उसे हर रोज कक्षा के बाद काम करने के लिए दे देती है।

एक दिन अमन को उसकी सख्त प्रोफेसर के घर एक पुस्तक वापिस करने जाना पड़ता है तो घर के अंदर जाकर अमन को पता चलता है कि मोनिका जैसी बाहर से दिखती है वैसी है नहीं !

अमन को मोनिका के किस रहस्य का पता चला? क्या इसका सम्बन्ध उसकी अमन में विशेष रुचि के साथ है? क्या अमन अपने जीवन की सबसे बड़ी परीक्षा पास कर लेगा?

पढ़ें XXX अपार्टमेंट्स की दूसरी कड़ी में – “अध्यापिका को सबक सिखाया !!”

अमन के लिए कॉलेज में कठिन समय चल रहा है। उसकी अंग्रेजी प्रोफेसर सुश्री मोनिका उसे शांति से नहीं रहने दे रही।

कक्षा में बैठे अमन के दिवास्वपन को उसकी अध्यापिका बीच में ही तोड़ देती है। वह उसे डांटती है और उसे हर रोज कक्षा के बाद काम करने के लिए दे देती है।

एक दिन अमन को उसकी सख्त प्रोफेसर के घर एक पुस्तक वापिस करने जाना पड़ता है तो घर के अंदर जाकर अमन को पता चलता है कि मोनिका जैसी बाहर से दिखती है वैसी है नहीं !

अमन को मोनिका के किस रहस्य का पता चला? क्या इसका सम्बन्ध उसकी अमन में विशेष रुचि के साथ है? क्या अमन अपने जीवन की सबसे बड़ी परीक्षा पास कर लेगा?

पढ़ें XXX अपार्टमेंट्स की दूसरी कड़ी में – “अध्यापिका को सबक सिखाया !!”