मम्मियाँ और कुकीज़ इतने लज़ीज़ कभी नहीं हुए !

जब अमन की भाभी कोमल को पता चलता है कि अमन को कुछ भी नहीं बनाना आता खाने में तो कोमल उसे साप्ताहिक पाक कक्षाओं में जाने को कहती है। शुरु में तो अमन अनिच्छा प्रकट करता है लेकिन उसकी भाभी जब उसे गर्मागर्म इनाम का प्रलोभन देती है तोअमन अपना विचार बदल लेता है।

अमन पाक-प्रशिक्षिका को देख कर हैरान रह जाता है, वह एक सेक्सी भाभी है जो उसी इमारत में रहती है।

अमन कैसे अपनी अन्तर्वासना को काबू में रखता है इस नई भाभी को देख कर? और वह कैसे पायल भाभी से मिलने के कुछ घण्टों के अन्दर ही पायल के स्तन से दूध पी पाने में सफ़ल हो पाता है?

XXX अपार्टमेंट्स के पाँचवें प्रकरण “मम्मियाँ और कुकीज़ इतने लज़ीज़ कभी नहीं हुए !” में पढ़ें और देखें !

जब अमन की भाभी कोमल को पता चलता है कि अमन को कुछ भी नहीं बनाना आता खाने में तो कोमल उसे साप्ताहिक पाक कक्षाओं में जाने को कहती है। शुरु में तो अमन अनिच्छा प्रकट करता है लेकिन उसकी भाभी जब उसे गर्मागर्म इनाम का प्रलोभन देती है तोअमन अपना विचार बदल लेता है।

अमन पाक-प्रशिक्षिका को देख कर हैरान रह जाता है, वह एक सेक्सी भाभी है जो उसी इमारत में रहती है।

अमन कैसे अपनी अन्तर्वासना को काबू में रखता है इस नई भाभी को देख कर? और वह कैसे पायल भाभी से मिलने के कुछ घण्टों के अन्दर ही पायल के स्तन से दूध पी पाने में सफ़ल हो पाता है?

XXX अपार्टमेंट्स के पाँचवें प्रकरण “मम्मियाँ और कुकीज़ इतने लज़ीज़ कभी नहीं हुए !” में पढ़ें और देखें !