प्रशिक्षु

सविता को आखिरकार पदोन्नति मिल ही गई क्योंकि वह इस पदोन्नति के लिए कड़ी मेहनत जो कर रही थी।

सबसे पहला काम उसे यह करना है कि उसे तीन प्रशिक्षु लड़कों में से, जो एक महीने तक उसके नीचे काम करेंगे, एक को अपने निजी सचिव के रूप में चुनना है।

बेशक सविता के गर्म बदन और कार्यालय में उसकी प्रतिष्ठा के चलते लड़के उसके ऊपर ही काम काम करेंगे !

तीन लड़कों में से कौन भाग्यशाली होगा जिसे सविता का सानिध्य मिलेगा?

क्या वो रोनित होगा जो सदा शान्त रहता है या शर्मीला और रहस्यमय वेदांत या पार्टियों में मस्त रहने वाला राहुल ?

कौन हो सकता है? और सविता उनमें से किसी एक के बारे में किस राज पर से परदा उठाएगी ?

अधिक जानने के लिए पढ़ें सविता भाभी की उनतीसवीं कड़ी- प्रशिक्षु

सविता को आखिरकार पदोन्नति मिल ही गई क्योंकि वह इस पदोन्नति के लिए कड़ी मेहनत जो कर रही थी।

सबसे पहला काम उसे यह करना है कि उसे तीन प्रशिक्षु लड़कों में से, जो एक महीने तक उसके नीचे काम करेंगे, एक को अपने निजी सचिव के रूप में चुनना है।

बेशक सविता के गर्म बदन और कार्यालय में उसकी प्रतिष्ठा के चलते लड़के उसके ऊपर ही काम काम करेंगे !

तीन लड़कों में से कौन भाग्यशाली होगा जिसे सविता का सानिध्य मिलेगा?

क्या वो रोनित होगा जो सदा शान्त रहता है या शर्मीला और रहस्यमय वेदांत या पार्टियों में मस्त रहने वाला राहुल ?

कौन हो सकता है? और सविता उनमें से किसी एक के बारे में किस राज पर से परदा उठाएगी ?

अधिक जानने के लिए पढ़ें सविता भाभी की उनतीसवीं कड़ी- प्रशिक्षु