मादक निजी सचिव-1

परिश्रम का फ़ल हमेशा मीठा होता है ! अंततः सविता को मुख्यालय से बड़े साहब ने बुला ही लिया साक्षात्कार के लिए !

एक लम्बे समय से वो इसी पल की प्रतीक्षा कर रही थी। अपने जीवन के सबसे महत्वपूर्ण दिन के लिए सविता ने अपने को बेहतरीन ढंग से संवारा ताकि वो सबसे हसीन और मादक दिखे !

तो यह साक्षात्कार कैसा होगा? कामुक अन्तःवस्त्र पहन कर जाने का उसका विचार उसके लिए अच्छा रहा या बुरा?

और सबसे महत्वपूर्ण बात कि बड़े साहब हैं कौन? जानने के लिए पढ़िए-देखिए – सविता भाभी की इकतीसवीं कड़ी – मादक निजी सचिव-1

परिश्रम का फ़ल हमेशा मीठा होता है ! अंततः सविता को मुख्यालय से बड़े साहब ने बुला ही लिया साक्षात्कार के लिए !

एक लम्बे समय से वो इसी पल की प्रतीक्षा कर रही थी। अपने जीवन के सबसे महत्वपूर्ण दिन के लिए सविता ने अपने को बेहतरीन ढंग से संवारा ताकि वो सबसे हसीन और मादक दिखे !

तो यह साक्षात्कार कैसा होगा? कामुक अन्तःवस्त्र पहन कर जाने का उसका विचार उसके लिए अच्छा रहा या बुरा?

और सबसे महत्वपूर्ण बात कि बड़े साहब हैं कौन? जानने के लिए पढ़िए-देखिए – सविता भाभी की इकतीसवीं कड़ी – मादक निजी सचिव-1