यौन कसरत – खेल शुरू कैसे हुआ था ?

अपने को चुस्त-दुरुस्त रखने से फ़ायदा होता ही है !

सविता अपने संस्मरण सुना रही है जब पहली बार वह निजी व्यायाम प्रशिक्षक अमन से पहली बार मिली थी।

अशोक और सविता एक नए जिम में शामिल हुए थे और सविता ने एक नज़र में अमन को जान लिया था कि वो उसे व्यायाम के साथ और भी कुछ सिखा सकता है।

लेकिन कैसे ?

वे अशोक के साथ होते हुए कुछ करना चाह कर भी कैसे करें?

जानना चाहते हैं कि कैसे सविता ने अपनी मनोकामना पूर्ण की?

इन सभी प्रश्नों के उत्तर जानने के लिए देखें भारी भरकम यौन-क्रीड़ा के चित्रों से भरपूर सविता भाभी की तीसवीं कड़ी : यौन कसरत – खेल शुरू कैसे हुआ था ?”

अपने को चुस्त-दुरुस्त रखने से फ़ायदा होता ही है !

सविता अपने संस्मरण सुना रही है जब पहली बार वह निजी व्यायाम प्रशिक्षक अमन से पहली बार मिली थी।

अशोक और सविता एक नए जिम में शामिल हुए थे और सविता ने एक नज़र में अमन को जान लिया था कि वो उसे व्यायाम के साथ और भी कुछ सिखा सकता है।

लेकिन कैसे ?

वे अशोक के साथ होते हुए कुछ करना चाह कर भी कैसे करें?

जानना चाहते हैं कि कैसे सविता ने अपनी मनोकामना पूर्ण की?

इन सभी प्रश्नों के उत्तर जानने के लिए देखें भारी भरकम यौन-क्रीड़ा के चित्रों से भरपूर सविता भाभी की तीसवीं कड़ी : यौन कसरत – खेल शुरू कैसे हुआ था ?”