सहेलियों का प्यार

कड़ी अनुवादक: एली
सविता की पुरानी दोस्त और शिष्या शोभा उसे शॉपिंग के लिए बाहर ले जाती है। शोभा के पिता को उसकी अरेंज शादी ना करने को मानाने के लिए, वो धन्यवाद कहना चाहती है. लेकिन जब शोभा सविता की सबसे अच्छी दोस्त एनी से मिलती है, तो ईर्ष्या से खुद को असुरक्षित महसूस करने लगती है. खुद को सविता का सबसे अच्छा दोस्त ना जान कर, शोभा रोते हुए वहां से चली जाती है.
क्या सविता शोभा को मना पायेगी? या अपने दोस्तों के बिच कि दूरियां कम करने की उसकी कोशिश असफल हो जाएगी? सविता भाभी श्रृंखला के एपिसोड 83 में इस सवाल के जवाब का पता लगाएं।

कड़ी अनुवादक: एली
सविता की पुरानी दोस्त और शिष्या शोभा उसे शॉपिंग के लिए बाहर ले जाती है। शोभा के पिता को उसकी अरेंज शादी ना करने को मानाने के लिए, वो धन्यवाद कहना चाहती है. लेकिन जब शोभा सविता की सबसे अच्छी दोस्त एनी से मिलती है, तो ईर्ष्या से खुद को असुरक्षित महसूस करने लगती है. खुद को सविता का सबसे अच्छा दोस्त ना जान कर, शोभा रोते हुए वहां से चली जाती है.
क्या सविता शोभा को मना पायेगी? या अपने दोस्तों के बिच कि दूरियां कम करने की उसकी कोशिश असफल हो जाएगी? सविता भाभी श्रृंखला के एपिसोड 83 में इस सवाल के जवाब का पता लगाएं।