अंदरूनी देखभाल

कड़ी 89 में सविता अपनी डिब्बा कंपनी चलाते चलाते थक जाती है, सारी रात छुट में उंगली करने के बाद अगली सुबह वह अपने व्यवसाय को सफल बनाने की कोशिश करती हुई रसोई में बेहोश हो जाती है. जब उसकी आँखे खुलती है तो वह अपने आप को हस्पताल में पाती है, जहा उसे एक नया व्यवसाय पार्टनर एलेक्स मिलता है और उसके साथ-साथ मजेदार अंदरूनी चुदाई जो उसे संतुष्ट करती है या नहीं यह इस कड़ी में जानिए.

कड़ी 89 में सविता अपनी डिब्बा कंपनी चलाते चलाते थक जाती है, सारी रात छुट में उंगली करने के बाद अगली सुबह वह अपने व्यवसाय को सफल बनाने की कोशिश करती हुई रसोई में बेहोश हो जाती है. जब उसकी आँखे खुलती है तो वह अपने आप को हस्पताल में पाती है, जहा उसे एक नया व्यवसाय पार्टनर एलेक्स मिलता है और उसके साथ-साथ मजेदार अंदरूनी चुदाई जो उसे संतुष्ट करती है या नहीं यह इस कड़ी में जानिए.