भाग 4

अब सविता के गोआ को छोड़ने का और अपने वास्तविक जीवन में लौटने का वक्त आ गया है। लेकिन हम जानते हैं कि भाभी इसका भी अन्तिम जोरदार आनन्द अवश्य लेंगी। जब अचानक वे चारों लड़के एक साथ सामने आ जाते हैं जिनसे भाभी गोआ में मिली थी, सविता अपनी नई सहेली रोशनी के साथ मिल कर उन चारों और अपने अपूर्व आनन्द के लिए एक अनोखी योजना बनाती है।

क्या है यह योजना? क्या यह योजना परिधान-उत्सव में काम में ली जाएगी जब सभी इस उत्सव के लिए विशेष परिधान पहन कर आएँगे ! इस विशेष चालीस चित्रों वाली गोआ में सविता भाभी की अन्तिम कड़ी को देखना मत भूलें !

अब सविता के गोआ को छोड़ने का और अपने वास्तविक जीवन में लौटने का वक्त आ गया है। लेकिन हम जानते हैं कि भाभी इसका भी अन्तिम जोरदार आनन्द अवश्य लेंगी। जब अचानक वे चारों लड़के एक साथ सामने आ जाते हैं जिनसे भाभी गोआ में मिली थी, सविता अपनी नई सहेली रोशनी के साथ मिल कर उन चारों और अपने अपूर्व आनन्द के लिए एक अनोखी योजना बनाती है।

क्या है यह योजना? क्या यह योजना परिधान-उत्सव में काम में ली जाएगी जब सभी इस उत्सव के लिए विशेष परिधान पहन कर आएँगे ! इस विशेष चालीस चित्रों वाली गोआ में सविता भाभी की अन्तिम कड़ी को देखना मत भूलें !