तीसरी कड़ी !

डायन कॉलेज में पढ़ने वाली एक युवा अनुभवहीन लड़की प्रियंका की धारावाहिक कहानी है। प्रियंका की अन्तर्वासना जब जागृत होती है तो वह अत्यधिक चुलबुली हो जाती है, वो एक भिन्न प्रजाति के प्राणी का, जैसे डायन का सा रूप ले लेती है।

शराब के एक बार में प्रियंका अपने दुर्भाग्य पर सोचती हुई थोड़ी ज्यादा शराब पी लेती है और एक संभ्रात युवक के साथ होटल के कमरे में जाने का निर्णय करती है जो अपने होटल के कमरे में उसकी मदद करने का वादा करता है।

लेकिन वह वहाँ पहुंचती है तो उसे हथकड़ियों में जकड़ कर एक बूढ़े आदमी के सामने पेश किया जाता है। क्या वे दोनों प्रियंका की प्रबल अन्तर्वासना को काबू करने में मदद करेंगे? या उसकी बहुत ज्यादा चुदाई होगी?

डायन की इस रोमांचक नई कड़ी में देखिए !

डायन कॉलेज में पढ़ने वाली एक युवा अनुभवहीन लड़की प्रियंका की धारावाहिक कहानी है। प्रियंका की अन्तर्वासना जब जागृत होती है तो वह अत्यधिक चुलबुली हो जाती है, वो एक भिन्न प्रजाति के प्राणी का, जैसे डायन का सा रूप ले लेती है।

शराब के एक बार में प्रियंका अपने दुर्भाग्य पर सोचती हुई थोड़ी ज्यादा शराब पी लेती है और एक संभ्रात युवक के साथ होटल के कमरे में जाने का निर्णय करती है जो अपने होटल के कमरे में उसकी मदद करने का वादा करता है।

लेकिन वह वहाँ पहुंचती है तो उसे हथकड़ियों में जकड़ कर एक बूढ़े आदमी के सामने पेश किया जाता है। क्या वे दोनों प्रियंका की प्रबल अन्तर्वासना को काबू करने में मदद करेंगे? या उसकी बहुत ज्यादा चुदाई होगी?

डायन की इस रोमांचक नई कड़ी में देखिए !