कॉलेज़ चुनाव

राजश्री के पास क्या नहीं है – सौन्दर्य, अभिलाषाएँ और एक स्वस्थ सेक्स जीवन ! केवल एक चीज उसकी पहुंच से बाहर है ! वह है उसके कॉलेज के छात्र संघ की अध्यक्षा बनना ! इसलिए जब मौका आया तो राज ने अपने सपनों को सच करने के लिए कुछ भी, जी हाँ ! कुछ भी कर चुकने का निश्चय कर लिया।

लेकिन पहले उसे सुनिश्चित करना है कि वह अपने मुख्य प्रतिद्वंद्वी को इस मुकाबले से बाहर करे और सुनिश्चित करे कि समिति का प्रत्येक सदस्य उसका समर्थन करे। वह ऐसा कैसे करेगी? लड़कियों के समलैंगिक यौन-दृश्य, समूह सेक्स, और बहुत कुछ किरतु के इस मुफ्त प्रकरण में – – कॉलेज चुनाव!

*कृपया ध्यान दें : यह कार्टून कथा किरतु के प्रशन्सकों द्वारा भेजी गई है। इसकी चित्र-गुणवत्ता सविता भाभी कथा से काफ़ी निम्न हो सकती है।

राजश्री के पास क्या नहीं है – सौन्दर्य, अभिलाषाएँ और एक स्वस्थ सेक्स जीवन ! केवल एक चीज उसकी पहुंच से बाहर है ! वह है उसके कॉलेज के छात्र संघ की अध्यक्षा बनना ! इसलिए जब मौका आया तो राज ने अपने सपनों को सच करने के लिए कुछ भी, जी हाँ ! कुछ भी कर चुकने का निश्चय कर लिया।

लेकिन पहले उसे सुनिश्चित करना है कि वह अपने मुख्य प्रतिद्वंद्वी को इस मुकाबले से बाहर करे और सुनिश्चित करे कि समिति का प्रत्येक सदस्य उसका समर्थन करे। वह ऐसा कैसे करेगी? लड़कियों के समलैंगिक यौन-दृश्य, समूह सेक्स, और बहुत कुछ किरतु के इस मुफ्त प्रकरण में – – कॉलेज चुनाव!

*कृपया ध्यान दें : यह कार्टून कथा किरतु के प्रशन्सकों द्वारा भेजी गई है। इसकी चित्र-गुणवत्ता सविता भाभी कथा से काफ़ी निम्न हो सकती है।